Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

अकेले सिरसा में 300 करोड़ का घोटाला

हिसार मडंल पुलिस द्वारा गठित स्पेशल इन्वेसटिगेशन फोर्स ने 10,618 करोड़ के वैट व जीएसटी घोटाले के मुख्य सरगना पदम बंसल को दिल्ली से गिरफ्तार किया है और उसे रिमांड पर लेकर इस घोटाले के संबंध में पूछताछ कर रही है। पुलिस इस मामले में अब तक 18 लोगों को गिरफ्तार कर चुके है। यह जानकारी हिसार मंडल के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्रीकांत जाधव ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोंधित करते हुए दी। इस अवसर सिरसा पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण, एएसपी दीप्ती गर्ग अन्य पुलिस अधिकारी उपस्थित रहे। उन्होंने कहा कि एसआईटी ने वर्ष 2014 में अपनी जांच रिपोर्ट जस्टिस प्रीतमपाल के समक्ष प्रस्तुत कर दी थी। सरकार ने मामले की जांच करने के लिए 14 सदस्यों की एसआईटी गठित की थी। इस घोटाले के तार दिल्ली, गुजरात सहित अन्य राज्यों में भी फैले हुए थे। सिरसा जिले में ही यह वैट घोटाला 300 करोड़ रुपये का था। उन्होंने कहा कि एसआईटी ने इस मामले में मुख्य आरोपी महेश बंसल को पहले महीने में ही गिरफ्तार कर लिया था । टीम ने रमेश अरोड़ा, महेश बंसल व अब पदम बंसल यानी एमआरपी के नाम से मशहूर तिगड़ी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस की राडार पर अब भी कई अधिकारी व व्यापारी है। एडीजीपी श्रीकांत जाधव ने बताया कि इस मामले मे जांच के लिये डीएसपी नरवाना अमित भाटिया के नेतृत्व मे एसआईटी का गठन किया गया।

Spread the love