Welcome to Barwala Block (Hisar)

हिसार में आज से 3 दिन तक ‘खास’ मतदान:923 बुजुर्ग व दिव्यांग घर बैठे डाल सकेंगे वोट; 20 पोलिंग पार्टियां रवाना

          

पत्नी की हत्या:गांव में ही दूसरी शादी कर रह रही थी, पहले पति ने दिया वारदात को अंजाम

          

बालक चौपटा के पास चपेट में आने से बाइक सवार की मौत

          

राजली नहर में दोस्तों के साथ नहाने गया व्यक्ति डूबा

          

12वीं में आई कंपार्टमेंट, दोस्तों से झूठ बोला-थारा भाई पास हो गया, पूरी रात पी शराब, सुबह पीजी के शौचालय में मिला शव

          

जींद-बरवाला रूट पर चक्कर मिस कर रही प्राइवेट बसें:CM विंडो पर शिकायत के बाद DTO ने मांगा रिकॉर्ड; परमिट रद्द करने की चेतावनी

जींद-बरवाला रूट पर प्राइवेट बस चालकों द्वारा टाइम मिस करने और बीच रास्ते यात्रियों को दूसरी बस में बैठाने की CM विंडो पर शिकायत दी गई है। DTO हिसार ने बस संचालकों से जवाब मांगा है। इसमें हिसार की 2 और जींद की एक बस शामिल है। DTO हिसार ने प्राइवेट बस मालिकों को 12 सितंबर को कार्यालय में उपस्थित नहीं होने पर परमिट रद्द करने की चेतावनी दी है।

24 अगस्त को तहसील नारनौल के गांव हैबतपुर निवासी अनिल कुमार ने CM विंडो पर बरवाला से जींद चलने वाली बसों बारे में शिकायत दी है कि उक्त मार्ग पर चलने वाली बस समय-सारणी अनुसार संचालन नहीं करती और रास्ते में यात्रियों को एक बस से दूसरी बस में बदलते रहते हैं। वहीं 2 बस की जगह एक बस का संचालन करते हैं। बरवाला से जींद मार्ग पर चलने वाली सभी बस मालिकों को कार्यालय में बुलाया गया था, लेकिन कोई बस मालिक कार्यालय में उपस्थित नहीं हुआ।

अधिकारियों को दिखाई सवारी बदलते की वीडियो

इस दौरान अनिल कुमार ने कुछ वीडियो अधिकारियों को दिखाई, जिसमें प्राइवेट बस चालक आपस में सवारियां बदलते दिखाई दे रहे हैं। ऐसे में बरवाला से जींद मार्ग पर चलने वाले सभी निजी परिवहन समिति के मालिकों को आदेश दिए गए है कि वह पूर्ण रिकॉर्ड लेकर दिनांक 12 सितंबर को कार्यालय में उपस्थित हों, नहीं तो बसों के परमिट निलंबित या रद्द कर दिए जाएंगे।

हरियाणा कर्मचारी महासंघ के प्रेस प्रवक्ता रामनिवास खरक भूरा ने बताया कि सभी प्राइवेट परिवहन समिति की बसें बीच रास्ते सवारियों की अदला बदली करके आम जनता की जान खतरे में डाल विभाग को आर्थिक नुकसान होता है। करोड़ों रुपए की लागत से बस स्टैंड जनता की सुविधा के लिए बनाए गए हैं। प्राइवेट पेमेंट समितियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाए।

Spread the love