Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

हिसार में ट्रक से टकराई बारातियों की बोलेरो:3 युवकों की मौत, 4 घायल; गांव की बारात में शामिल होकर लौट रहे थे

हिसार में ट्रक से टकराने के बाद क्षतिग्रस्त हुई बारातियों से भरी बोलेरो। हादसे में 3 युवकों की मौत हो गई। जबकि, 4 गंभीर रूप से घायल हो गए। - Dainik Bhaskar
हिसार में ट्रक से टकराने के बाद क्षतिग्रस्त हुई बारातियों से भरी बोलेरो। हादसे में 3 युवकों की मौत हो गई। जबकि, 4 गंभीर रूप से घायल हो गए।

हहिसार स्थित गांव कालीरावण के पास बोलेरो और ट्रक की टक्कर हो गई। सड़क हादसे में 3 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 4 गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हें हिसार के निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। मृतकों की पहचान काबरेल गांव निवासी सूर्य प्रकाश, कुलदीप और राधेश्याम नायक के रूप में हुई है।

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर अग्रोहा मेडिकल कॉलेज भिजवा दिया। वहीं, घायलों का नाम धर्मपाल, राजाराम, परवीन जांगड़ा और राजेंद्र है।

मिली जानकारी के अनुसार, काबरेल गांव निवासी देवीलाल के बेटे देवेंद्र की शादी थी, जिसकी बारात अग्रोहा गई थी। बोलेरो सवार 7 युवक अग्रोहा से वापस काबरेल आ रहे थे। बताया जा रहा है कि इसी दौरान रात करीब 12 बजे कालीरावण गांव के पास ट्रक से टक्कर हो गई, जिसमें सातों गंभीर रूप से घायल हो गए और इलाज के दौरान तीन युवकों की मौत हो गई।

घर का इकलौता सहारा था सूर्य प्रकाश
मिली जानकारी के अनुसार मृतक सूर्य प्रकाश घर का इकलौता सहारा था। उसका पिता काफी साल पहले ही घर छोड़कर जा चुका था। घर पर वह और उसकी माता अकेले रहते थे। सूर्य प्रकाश मजदूरी करता था और अविवाहित था। वहीं, मृतक 45 वर्षीय राधेश्याम शादीशुदा था और उसके दो लड़की, एक लड़का हैं। वह गांव में ही मजदूरी करता था।

काबरेल गांव का भांजा था कुलदीप
करीब 35 वर्षीय मृतक कुलदीप काबरेल गांव का भांजा था। मूलरूप से चूली गांव का रहने वाला था। उसका कोई मामा नहीं है। जिस कारण वह नाना के सहारे काबरेल गांव में बचपन से ही रहता था। कुलदीप शादीशुदा था और उसके दो लड़की व एक लड़का है। वह काबरेल गांव में परचून की दुकान चलाता था।

फिलहाल घायलों को हिसार के निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। आदमपुर पुलिस मृतक के परिवार वालों के बयान दर्ज कर शवों के पोस्टमार्टम कराने के बाद सौंप देगी।

Spread the love