Welcome to Barwala Block (Hisar)

हिसार में आज से 3 दिन तक ‘खास’ मतदान:923 बुजुर्ग व दिव्यांग घर बैठे डाल सकेंगे वोट; 20 पोलिंग पार्टियां रवाना

          

पत्नी की हत्या:गांव में ही दूसरी शादी कर रह रही थी, पहले पति ने दिया वारदात को अंजाम

          

बालक चौपटा के पास चपेट में आने से बाइक सवार की मौत

          

राजली नहर में दोस्तों के साथ नहाने गया व्यक्ति डूबा

          

12वीं में आई कंपार्टमेंट, दोस्तों से झूठ बोला-थारा भाई पास हो गया, पूरी रात पी शराब, सुबह पीजी के शौचालय में मिला शव

          

9वीं क्लास के स्टूडेंट ने की आत्महत्या:दोस्ती करने से इनकार करने पर तंग कर रही थी छात्रा, घर में लगाया फंदा

9वीं कक्षा के छात्र ने साथ पढ़ने वाली छात्रा से तंग आकर आत्महत्या कर ली। छात्र ने घर पर ही पंखे से फंदा लगाया। दुबई से हिसार पहुंचे उसके पिता व दादा ने स्कूल की दो छात्राओं व स्कूल टीचर पर उसके बेटे को आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप लगाए हैं। शहर थाना पुलिस ने तीनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली है।

मोरी गेट हिसार निवासी संतोष ने पुलिस को बताया कि उसका एक बेटा ध्रुव और एक बेटी अलीशा वर्मा है। 14 वर्षीय बेटा ध्रुव अर्बन एस्टेट हिसार स्थित एक निजी स्कूल में कक्षा 9वीं में पढ़ता था। उसका पति दुबई मे प्राइवेट नौकरी करता है। वह 28 सितंबर को जींद में दवाई लेने के लिए गई थी। वहां पर वह अपने एक रिश्तेदार के यहां ठहर गई।

इस बीच घर से बेटी अलीषा का फोन आया। उसने कहा कि ध्रुव को उसकी कक्षा की नंदनी व उसकी सहेलियां परेशान करती हैं। वह स्कूल में नहीं जाना चाहता। बेटी को कहा की मैं दो दिन में घर पर आ जाऊंगी। स्कूल में जाकर उसकी उसकी टीचर पूनम और छात्र नंदनी व उसकी सहेलियों से बात करूंगी।

मां के घर पहुंचने से पहले ही कर ली आत्महत्या
महिला ने कहा कि उसके घर पहुंचने से पहले ही बेटे ने घर पर अपने कमरे में पंखे से फंदा लगा लिया। दादा लीलूराम व परिवार के लोगों ने उसे हिसार के नागरिक अस्पताल पहुंचाया। वहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। कार्रवाई के लिए उसके पिता संजय का दुबई से आने का इंतजार किया। सोमवार को उसके पिता दुबई से हिसार पहुंचे।

छात्रा दोस्ती के लिए डाल रही थी ध्रुव पर दबाव
पिता संजय ने पुलिस को बताया कि बेटे पर उसके साथ पढ़ने वाली छात्रा व उसकी सहेली दोस्ती का दबाव डाल रही थी। उसे रोजाना परेशान कर करती थी। उसका बेटा काफी शरीफ था। उसने दोस्ती करने से मना कर दिया। जिसके बाद वह उसे परेशान करने ली। दोनों छात्राओं से तंग आकर उसके बेटे ने यह कदम उठाया।

उन्होंने आरोप लगाया कि छात्रा ने लात मार कर कहा था कि तू लड़कियों जैसा है, किसी से दोस्ती नहीं कर सकता।

स्कूल टीचर करती थी छात्राओं की तरफदारी
छात्र के पिता ने कहा कि पहले भी इस बारे में स्कूल की टीचर पूनम से शिकायत की थी, लेकिन वह छात्राओं की तरफदारी करती थी। उलटे ध्रुव को ही डांटने लगती थी। जिससे ध्रुव अब स्कूल में जाने से भी डरने लगा था।

पुलिस ने आरोपी छात्रा व टीचर के खिलाफ दर्ज की FIR
मामले की जांच कर रहे ASI अनूप ने बताया कि पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम करवा कर परिवार के हवाले कर दिया। मृतक की मां संतोष के बयान पर आरोपी छात्रा व स्कूल टीचर के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर किए जाने का केस दर्ज किया है।

Spread the love