Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

CET एग्जाम में पकड़े गए तीन फर्जी परीक्षार्थी, एक महिला भी शामिल

 

हांसी  : जिला पुलिस ने आज दूसरे के स्थान पर ग्रुप-डी की परीक्षा दे रहे अलग-अलग स्कूलों से तीन लोगों को काबू किया है। पकड़े गए तीनो में एक महिला भी शामिल है। पकड़े गए पहले मुन्ना भाई की पहचान हिसार जिले के राजली गांव के विकास तथा दूसरा मुन्ना भाई की पहचान बुडाना के रहने वाले नवदीप के रूप में हुई है। तीसरी महिला पनिहार गांव की सारधा है। विकास अपने दोस्त फतेहाबाद के सांचला गांव निवासी प्रमोद के स्थान पर परीक्षा दे रहा था। दूसरा युवक नवदीप अपने जानकर भिवानी के रहने वाले अमरजीत की परीक्षा देते पकड़ा गया । वहीं तीसरी पनिहार गांव की सारधा शिकार पुर की कृष्णा का पेपर देते पकड़ी गई। तीनों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

हांसी के एसडी कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में दूसरे के स्थान पर ग्रुप डी (CET) की परीक्षा दे रहे एक मुन्ना भाई को पुलिस ने काबू किया है। पुलिस ने एसडी कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की प्राचार्या की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे हिरासत में ले कर पुछताछ आरंभ कर दी है।

PunjabKesari

दोस्त के स्थान पर दे रहा था परीक्षा

थाना प्रभारी उदयभान गोदारा ने बताया कि उनके पास पंचकूला एनटीए हैडक्वार्टर से सूचना आई थी कि एसडी कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के कमरा नंबर-6 में परीक्षा दे रहे प्रमोद नामक परीक्षार्थी की बायोमेट्रिक और आधार कार्ड पर लगी फोटो मैच नहीं कर रही है। एनटीए पंचकूला से मिले आदेश पर उन्होंने तुरंत एसडी कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में पहुंच एनटीए द्वारा बताए गए परीक्षार्थी को हिरासत में लेकर पुछताछ की तो उसने बताया कि वह राजली गांव का रहने वाला है और वर्तमान में सिंचाई विभाग में ग्रुप डी के पद पर कार्यरत है और वह अपने दोस्त के स्थान पर परीक्षा देने के लिए आया था। पुलिस पकड़े गए आरोपी से पूछताछ कर रही है कि उसने प्रमोद या किसी अन्य गिरोह से रुपए लेकर परीक्षा तो नहीं दी है। वहीं परीक्षार्थी प्रमोद की तलाश आरंभ कर दी है। उदयभान गोदारा ने बताया कि असल परीक्षार्थी प्रमोद से पूछताछ के बाद ही सारी सच्चाई सामने आ पाएगी।

Spread the love