Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

Jind: छात्राओं से छेड़छाड़ का मामला; स्टाफ पर भी गिरी तबादले की गाज, 16 सदस्यीय नया स्टाफ होगा नियुक्त

जींद में छात्राओं द्वारा लगाए गए यौन शोषण के आरोपों पर सीएम मनोहर लाल ने मंगलवार को विभाग द्वारा की गई जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आरोपी प्राचार्य को बर्खास्त कर दिया। इसके साथ ही स्टाफ पर भी तबादले की गाज गिरी है। अब स्कूल में 16 सदस्यीय नया स्टाफ लगाया जाएगा।
Jind case of molestation of girl students, burden of transfer fell on staff too

जींद के उचाना क्षेत्र के राजकीय स्कूल में छात्राओं द्वारा लगाए गए यौन शोषण के आरोपों की प्रारंभिक जांच के बाद सरकार ने आरोपी प्राचार्य को बर्खास्त कर दिया है। स्टाफ पर भी तबादले की गाज गिरी है। अब स्कूल में 16 सदस्यीय नया स्टाफ लगाया जाएगा। फिलहाल प्राचार्य जेल में है। वहीं इस मामले की पुलिस की एसआईटी जांच कर रही है। जिला प्रशासन की तरफ से एडीसी डॉ. हरिश वशिष्ठ भी मामले की जांच कर रहे हैं

उचाना क्षेत्र के एक राजकीय स्कूल की छात्राओं ने 31 अगस्त को पांच पेज का एक शिकायत पत्र राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, महिला आयोग समेत अनेक अधिकारियों को भेजा था। इसके बाद शिक्षा विभाग ने इसकी जांच शुरू की। 30 अक्तूबर को उचाना थाना पुलिस ने कुछ छात्राओं की शिकायत पर प्राचार्य के खिलाफ मामला दर्ज किया।

मामले की गंभीरता को देखते हुए डीसी मोहम्मद इमरान रजा ने यौन उत्पीड़न कमेटी का गठन कर दिया। वहीं उच्चतर शिक्षा विभाग ने भी अपनी तरफ से इसकी जांच करवाई। हरियाणा महिला आयोग की चेयरपर्सन रेनु भाटिया ने भी एसआईटी गठित करने के निर्देश दिए। महिला आयोग ने शिक्षा विभाग व पुलिस टीम को तलब किया था। इसमें 50 छात्राओं के बयान महिला आयोग को सौंपे गए थे। तीन नवंबर को प्राचार्य को गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया गया।

अदालत ने उसे जेल भेज दिया। सीएम मनोहर लाल ने मंगलवार को विभाग द्वारा की गई जांच रिपोर्ट मिलने के बाद आरोपी प्राचार्य को बर्खास्त कर दिया। मुख्यमंत्री कार्यालय के प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 311 (बी) के तहत अपनी शक्तियों का उपयोग करते हुए यह कार्रवाई की है। स्कूल में महिला प्राचार्य नियुक्त किया जाएगा।

अधिकारी के अनुसार
प्राचार्य को बर्खास्त करने और 16 नए स्टाफ सदस्यों को लगाने की सूचना आई है। फिलहाल इसके आधिकारिक आदेश नहीं आए हैं। जल्द ही आदेश मिल जाएंगे। स्कूल में महिला प्राचार्य को नियुक्त किया जाएगा। -ज्योति श्योकंद, जिला शिक्षा अधिकारी

Spread the love