Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

जींद में आज से तीन दिवसीय दौरे पर मोहन भागवत:पुलिस ने किए सुरक्षा के कड़े प्रबंध; आरएसएस चीफ कई कार्यक्रमों में भाग लेंगे

गोपाल स्कूल में सुरक्षा को लेकर तैनात पुलिस बल। - Dainik Bhaskar
गोपाल स्कूल में सुरक्षा को लेकर तैनात पुलिस बल।

आरएसएस के सर संघ चालक मोहन भागवत आज से तीन दिन के प्रवास पर जींद में रहेंगे। वे तीन दिन तक अलग-अलग कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। सभी आयोजन भिवानी रोड स्थित गोपाल स्कूल में होंगे। ऐसे में गोपाल स्कूल के आसपास राष्ट्रीय सुरक्षा एजेंसियों ने व्यवस्था संभाल ली है।

मोहन भागवत को जेड प्लस श्रेणी सुरक्षा प्राप्त है। इसके अनुसार ही सभी प्रबंध किए गए हैं। सुरक्षाकर्मियों के साथ-साथ अन्य एजेंसियां भी सक्रिय हैं। स्वास्थ्य विभाग द्वारा भी इसको लेकर विशेष व्यवस्था की गई है।

हालांकि तीनों दिन मोहन भागत गोपाल स्कूल में होने वाले कार्यक्रमों में भाग लेंगे, लेकिन प्रशासन ने नागरिक अस्पताल में बनाए गए सेफ हाउस को भी जांचा। मोहन भागवत के आगमन को लेकर शहर में विशेष तैयारियों की गई हैं। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ द्वारा प्रमुख चौराहों को सजाया गया है।

डॉग स्वायड के साथ चेकिंग करते सुरक्षाकर्मी
डॉग स्वायड के साथ चेकिंग करते सुरक्षाकर्मी

152-डी के रास्ते रोहतक रोड से जींद पहुंचेंगे

प्रशासनिक सूत्रों के अनुसार, मोहन भागवत राष्ट्रीय राजमार्ग 152-डी के रास्ते रोहतक रोड से जींद पहुंचेंगे। तीन 14 जनवरी तक गोपाल स्कूल में ही रहेंगे और आरएसएस से जुड़े विभिन्न संगठनों के साथ बैठक करेंगे। इस दौरान चुनिंदा लोग ही आयोजित कार्यक्रमों में भाग लेंगे। मोहन भागवत प्रदेश में आरएसएस की शाखाओं के विस्तार को लेकर समीक्षा व भविष्य की योजना तैयार करेंगे। आरएसएस ने प्रदेश में 1200 स्थानों पर शाखा चलाने का भी संकल्प लिया गया है।

प्रदेश भर के आरएसएस प्रचाकों के साथ होने वाली बैठक सबसे महत्वपूर्ण होगी। 13 जनवरी को वे पूर्व सैनिकों के साथ बैठक करेंगे। इसके लिए प्रदेश भर से 66 पूर्व सैनिकों को शामिल किया गया है। इसमें सिपाही से लेकर अधिकारी तक के पूर्व सैनिक शामिल होंगे।

Spread the love