Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

रणजीत चौटाला के लिए नवीन जिंदल ने मांगे वोट:बोले- हिसार से भाजपा जीती तो समझो मैं ही यहां का सांसद

हिसार लोकसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी रणजीत चौटाला के समर्थन में जिंदल परिवार भी उतर आया है। कुरुक्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी नवीन जिंदल ने आज रणजीत चौटाला के लिए वोट मांगे। नवीन जिंदल ने खुद का हिसार से रोटी-पानी का नाता बताया और कहा कि रणजीत और जिंदल परिवार में कोई फर्क नहीं है।

वहीं रणजीत चौटाला ने नवीन जिंदल का हाथ पकड़ते हुए कहा कि नवीन जिंदल को भाजपा में लाने वाला मैं ही था। मैं तीन-चार बार नवीन जिंदल से मिला मगर उसने भाजपा में आने से मना कर दिया और कहा कि इससे बिजनेस प्रभावित होगा, मगर मैंने परिवार को मनाया और अब सभी भाजपा के लिए काम कर रहे हैं।

यह हमारा सौभाग्य है कि भाजपा में बाहर होते हुए भी प्रधानमंत्री ने दिल्ली बुलाकर मुलाकात की और आधे घंटे में ही टिकट दे दिया जबकि टिकट के दावेदारों की लंबी लाइनें हिसार और कुरुक्षेत्र से लगी हुई थी।

नवीन जिंदल बोले- मैं अपने पुराने घर में आ गया

हिसार के सुशीला भवन में पार्टी कार्यालय में नवीन जिंदल ने कार्यकर्ताओं से कहा कि भाजपा में उनकी घर वापसी हो गई है। उनके पिता जी ओपी जिंदल कुरुक्षेत्र से हरियाणा विकास पार्टी और भाजपा के गठबंधन पर चुनाव लड़ चुके हैं। भाजपा और आरएसएस के लोगों से उनके मधुर संबंध है। यह मेरे लिए पुराने घर में आना जैसा है।

जिंदल बोले- रणजीत जीतेंगे तो हिसार से नवीन ही बनेगा सांसद

नवीन जिंदल ने खुद को रणजीत चौटाला से जोड़ते हुए कहा कि हिसार से अगर रणजीत चौटाला चुनाव जीतेंगे तो दो सांसद चुने जाएंगे एक नवीन और दूसरा रणजीत। दोनों आपके काम करेंगे। नवीन जिंदल ने कहा कि हिसार का पानी और प्यार कभी नहीं भूलूंगा। बाऊंजी रणजीत चौटाला की इज्जत करते थे और इनसे राय लेते रहते थे। रणजीत भी बाऊ जी से राय लेते थे। रणजीत चौटाला ने मुझे हमेशा संभाला है अब दोनों एक दूसरे को संभालेंगे। रणजीत चौटाला हमेशा मेरे परिवार के साथ रहे हैं। हम सबका फर्ज बनता है कि रणजीत चौटाला को भारी मतों से जिताएं।

अभय चौटाला द्वारा कोयला घोटाले में नाम उछाले जाने के सवाल पर नवीन जिंदल ने कहा कि अभय उनके बड़े भाई हैं

नवीन जिंदल ने कहा कि वह किसी दवाब में नहीं बल्कि हरियाणा के लोगों की सेवा के लिए भाजपा में आए हैं। मैं ओपी जिंदल का बेटा हूं कोई मुझ पर दवाब नहीं बना सकता।

 

Spread the love