Welcome to Barwala Block (Hisar)

हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला: बिजली बिल में नहीं देना होगा MMC, राज्य के लाखों परिवारों को मिलेगी राहत

          

फादर्स डे पर पिता बना शैतान: टोहाना में बाप ने बेटे को पीट-पीटकर मार डाला,  पुलिस भी सकते में

          

कुर्बानी: पाकिस्तान में प्लास्टिक के दांतों वाला बकरा, क्या है इसके पीछे का रहस्य? जानिए

          

हरियाणा में जन्मदिन पर छात्र लापता:बैंक से 15 हजार रुपए निकाले; बैग में लेटर छोड़ा, लिखा- मैं न अच्छा बेटा बन पाया न भाई

          

हिसार में पब्लिक हेल्थ के XEN-SDO-JE को बनाया बंधक:पेयजल पाइन लाइन को लेकर भड़के ग्रामीण; अधिकारियों को 2 घंटे धूप में रखा

          

महिला ने की आत्महत्या:घर में फंदे पर लटकी मिली 2 बेटों की मां थी

महिला के शव को लेकर अस्पताल पहुंचे परिजन। - Dainik Bhaskar
महिला के शव को लेकर अस्पताल पहुंचे परिजन।

जींद जिले के गांव ढाठरथ निवासी बलवंत ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि वह मेहनत मजदूरी का काम करता है। उसके भाई जगबीर कि मृत्यु हो चुकी है। जगबीर की बेटी 28 वर्षीय आरती की शादी गांव खेडी लोहचब निवासी अशोक के साथ 2013 में हुई थी। आरती के 4 व 6 साल के दो बेटे हैं। उसकी भतीजी आरती कई दिनों से मानसिक तौर पर परेशान चली आ रही थी।

6 जून को दोपहर करीब 12:30 बजे उनको सूचना मिली कि उसकी भतीजी आरती ने गले में फन्दा लगाकर अपनी जीवन लीला को समाप्त कर ली है। सूचना मिलते ही वह अपने परिवार सहित गांव खेड़ी लोहचब गांव में मौके पर पहुंचे। उन्होंने देखा कि उसकी भतीजी आरती का शव बैड पर रखा हुआ था। उसने आस पास व अपने तौर पर तसल्ली कर ली है। आरती ने मानसिक परेशानी के चलते अपने गले में फन्दा लगाकर अपनी जीवन लीला को समाप्त कर दिया है।

आरती को उसके ससुराल में किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं थी और ससुरालजन उसको अच्छी तरह से रखते थे। आरती ने मानसिक परेशानी के चलते ही यह कदम उठाया है। नारनौंद पुलिस द्वारा मृतक महिला आरती के चाचा के बयानों के आधार पर इत्फ़ाकिया कार्रवाई अमल में लाई गई है। पुलिस ने महिला के शव का हांसी के नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा कर शव परिजनों को सौंप दिया है।

Spread the love