Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

चौ.बीरेंद्र सिंह के कांग्रेस जॉइन की चर्चा अफवाह:सांसद बेटे बृजेंद्र बोले- वह भाजपा में हैं, बात किसने फैलाई, जड़ तक जाएंगे

हिसार में वाटर टैंकर ग्रामीणों के सुपुर्द करते हुए सांसद बृजेंद्र सिंह। - Dainik Bhaskar
हिसार में वाटर टैंकर ग्रामीणों के सुपुर्द करते हुए सांसद बृजेंद्र सिंह।

हरियाणा में लोकसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही पूर्व केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह के कांग्रेस जॉइन करने की चर्चाएं राजनीतिक गलियारों में जोरों पर हैं। हिसार में पहुंचे उनके सांसद बेटे बृजेंद्र सिंह से इस बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि वे भाजपा में हैं। समझ में नहीं आ रहा है कि ऐसी अफवाहें कौन फैला रहा है। कांग्रेस में शामिल होने की बात किसने फैलाई, वे खुद जड़ तक पहुंचना चाहते हैं।

भाजपा सांसद बृजेंद्र सिंह ने कहा कि हैरानी की बात है कि उनके जान पहचान वालों को इस बारे में पता है, लेकिन उन्हें इस बारे में कोई पता ही नहीं है कि उनके पिता कांग्रेस जॉइन करने वाले हैं। एक सवाल के जवाब में सांसद ने कहा कि उन्होंने बीजेपी पार्टी से ही राजनीति की शुरुआत की है। वह नौकरी छोड़कर आए थे। इसके बाद भाजपा जॉइन की और सांसद बने।

चौं बीरेंद्र सिंह कह चुके हैं कि भाजपा का जजपा से गठबंधन हुआ तो वे भाजपा को छोड़ देंगे। सांसद बेटे बृजेंद्र सिंह ने कहा कि चौधरी साहब अपनी बात पर कायम हैं।
चौं बीरेंद्र सिंह कह चुके हैं कि भाजपा का जजपा से गठबंधन हुआ तो वे भाजपा को छोड़ देंगे। सांसद बेटे बृजेंद्र सिंह ने कहा कि चौधरी साहब अपनी बात पर कायम हैं।

उन्होंने कहा कि देशभर में चार-पांच सीटों को छोड़कर हर जगह से नेता बीजेपी की टिकट मांग रहे हैं। लोकसभा सीट का एरिया बहुत बड़ा होता है। उसके अंदर 8 से 9 विधानसभा सीट भी आती हैं। ऐसे में इनमें सीनियर नेता और मंत्री रह चुके नेता अपनी राजनीति साधने की कोशिश करते हैं। किसी पार्टी में टिकट के लिए मारामारी होती है, तो पार्टी के लिए अच्छी बात है।

बीरेंद्र सिंह के भाजपा छोड़ने के सवाल पर उन्होंने कहा कि वे आज भी अपनी बात पर कायम हैं कि अगर जजपा से समझौता रहा तो भाजपा के साथ नहीं रहेंगे। भाजपा में नड्डा जी और मुख्यमंत्री ने भी स्पष्ट कर दिया है कि सभी 10 सीट पर भाजपा चुनाव लड़ेगी। गठबंधन की दूसरे गुट को सोचना है कि अब वह क्या करेंगे। उन्होंने कहा कि तीन राज्यों में अच्छे परिणाम आने पर और अयोध्या में भगवान श्री राम की प्राण प्रतिष्ठा के बाद देश में चारों ओर बीजेपी का माहौल है।

Spread the love