Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

हरियाणा में इनेलो प्रदेश अध्यक्ष की हत्या:नफे राठी को पीठ-गर्दन समेत 6 गोलियां लगीं; बंद फाटक पर अभिवादन के बहाने करीब आए बदमाश

बहादुरगढ़ में फायरिंग के बाद कार में पड़े नफे सिंह राठी। इनसेट में फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
बहादुरगढ़ में फायरिंग के बाद कार में पड़े नफे सिंह राठी। इनसेट में फाइल फोटो।

हरियाणा में पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला की पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी की रविवार (25 फरवरी) शाम हत्या कर दी गई। राठी बहादुरगढ़ में बराही रेलवे फाटक बंद होने की वजह से रुके थे। आई-10 कार में आए बदमाश अभिवादन के बहाने राठी की फॉर्च्यूनर के पास पहुंचे। इसके बाद उन्होंने राठी पर 40 से 50 राउंड गोलियां चलाईं।

राठी को गर्दन और पीठ समेत 6 गोलियां लगीं। हमले में पार्टी कार्यकर्ता जयकिशन दलाल की भी मौत हो गई। वहीं 2 निजी सुरक्षाकर्मियों की हालत गंभीर बनी हुई है। उन्हें ब्रह्मशक्ति संजीवनी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस वारदात के पीछे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई और उसके करीबी काला जठेड़ी पर शक जताया जा रहा है। शुरुआती जांच में हत्या के पीछे प्रॉपर्टी का विवाद बताया जा रहा है।

झज्जर के SP अर्पित जैन ने कहा कि आरोपियों ने रेकी के बाद वारदात को अंजाम दिया। उन्हें जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। जांच के लिए 2 DSP के नेतृत्व में 5 टीमें बनाई हैं। CIA व STF को भी लगाया है।

इनेलो के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने मामले में CBI जांच की मांग की है।

सीएम मनोहर लाल ने कहा कि एक भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। गृह मंत्री अनिल विज ने SIT जांच के आदेश दिए हैं।

फायरिंग की वजह से क्षतिग्रस्त हुई नफे सिंह राठी की फॉर्च्यूनर। गाड़ी पर गोलियों के निशान भी नजर आ रहे हैं।
फायरिंग की वजह से क्षतिग्रस्त हुई नफे सिंह राठी की फॉर्च्यूनर। गाड़ी पर गोलियों के निशान भी नजर आ रहे हैं।

I-10 कार में आए बदमाशों ने की ताबड़तोड़ फायरिंग
रविवार को नफे सिंह राठी अपनी फॉर्च्यूनर गाड़ी में अपने 2 गनमैन और कार्यकर्ता के साथ ऑफिस से बहादुरगढ़ की तरफ जा रहे थे। नफे सिंह राठी कर भांजा संजय गाड़ी चला रहा था, जबकि वह खुद साइड में बैठे थे। पीछे की सीट पर उनके गनमैन थे। उनके काफिले में एक-दो गाड़ियां और भी थीं।

शाम लगभग 5 बजे के आसपास जब नफे सिंह राठी की गाड़ी बराही रेलवे फाटक के पास पहुंची तो I-10 कार में आए कुछ हमलावरों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। हमलावरों ने फॉर्च्यूनर गाड़ी पर उसी तरफ गोलियां बरसाईं जिस तरफ राठी बैठे थे।

हमले का पता चलते ही अस्पताल के बाहर समर्थकों की भीड़ जमा हो गई। हमले के बाद नफे सिंह राठी और उनके 3 गनमैनों को यहीं भर्ती कराया गया।
हमले का पता चलते ही अस्पताल के बाहर समर्थकों की भीड़ जमा हो गई। हमले के बाद नफे सिंह राठी और उनके 3 गनमैनों को यहीं भर्ती कराया गया।

राठी की साइड गाड़ी पर 10 बुलेट आर-पार
इस फायरिंग में राठी वाली साइड पर गाड़ी की बॉडी से कुल 10 बुलेट्स आर-पार हो गईं। 6 गोलियां खिड़की के शीशे को तोड़कर भी राठी को लगीं।

गाड़ी की पिछली सीट पर बैठे गनमैनों को टारगेट करते हुए जो फायरिंग की गई, उनमें से 4 गोलियां गाड़ी की बॉडी के आरपार हो गईं। कुछ बुलेट्स विंडो के कांच को तोड़कर भी सुरक्षाकर्मियों को लगीं।

2 मिनट के अंदर राठी या उनके सुरक्षाकर्मियों को संभलने तक का मौका नहीं मिला। हमलावरों का टारगेट सीधे नफे सिंह राठी ही थे इसलिए उन्होंने फॉर्च्यूनर गाड़ी पर सामने की तरफ से कोई फायरिंग नहीं की। यही वजह रही कि गाड़ी की विंडशील्ड को इस फायरिंग में कोई नुकसान नहीं पहुंचा।

घायलों और मृतकों के बारे में जानकारी देते संजीवनी अस्पताल के डॉक्टर मनीष शर्मा।
घायलों और मृतकों के बारे में जानकारी देते संजीवनी अस्पताल के डॉक्टर मनीष शर्मा।

डॉक्टर बोले- 2 की अस्पताल आने से पहले मौत हो चुकी थी
संजीवनी अस्पताल के डॉक्टर मनीष शर्मा ने बताया कि यहां 4 लोगों को लाया गया। गोली लगने की वजह से उन्हें काफी ब्लीडिंग हो रही थी। 2 मरीजों की ज्यादा ब्लीडिंग की वजह से पहले ही मौत हो चुकी थी। अभी 2 मरीज ICU में भर्ती किए गए हैं। उनको भी कंधे, जांघ और छाती में गोली लगी है।

मरने वालों में नफे सिंह राठी और जयकिशन दलाल हैं। मृतकों की गर्दन, पेट के पीछे वाले हिस्से, पीठ और गर्दन में गोली लगी थी। उन्होंने बताया कि मल्टीपल फायरिंग हुई है। मेजर वेसेल डैमेज हुई है। ज्यादा रक्त बहना मौत का कारण बना। दोनों घायलों की हालत नाजुक बनी हुई है। एक घायल की ब्लड प्रेशर काफी लो चल रहा है।

राठी की हत्या के बाद बात करते हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज।
राठी की हत्या के बाद बात करते हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज।

गृह मंत्री अनिल विज बोले- अधिकारियों को तुरंत कार्रवाई के लिए कहा
हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि यह घटना दुखद है। नफे सिंह राठी मेरे साथ विधायक भी रहे हैं। मैंने अधिकारियों से बात की है और उनको तुरंत कार्रवाई के लिए कहा है। स्पेशल टास्क फोर्स (STF) को भी लगाया है। मुझे उम्मीद है पुलिस जल्दी कार्रवाई करेगी। घटना की वजह क्या है, यह अभी कहना संभव नहीं है।

उम्र 66 साल, परिवार में दो बेटे
नफे सिंह राठी की उम्र लगभग 66 साल थी और वह 10वीं तक पढ़े हुए थे। परिवार में उनके दो बेटे हैं जिनमें नाम भूपेंद्र और जितेंद्र हैं। इनेलो नेता अभय सिंह चौटाला ने राठी को दो साल पहले ही पार्टी का प्रदेश अध्यक्ष बनाया था।

हमले के बाद स्पॉट पर पहुंचकर घटना की जांच करते झज्जर के एसपी अर्पित जैन और पुलिस टीम।
हमले के बाद स्पॉट पर पहुंचकर घटना की जांच करते झज्जर के एसपी अर्पित जैन और पुलिस टीम।

हमलावरों की पहचान के लिए CCTV खंगाल रही पुलिस
हमलावर किस तरफ से आए और घटना के बाद किधर गए? यह जानने के लिए पूरे इलाके में सड़कों और दुकानों के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज चेक करने की तैयारी की जा रही है।

इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी।
इनेलो के प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी।

लॉरेंस और काला जठेड़ी पर शक
इस हत्याकांड में कुख्यात बदमाश लॉरेंस बिश्नोई गैंग पर शक जताया जा रहा है। लॉरेंस के सबसे भरोसेमंदों में से एक काला जठेड़ी रोहतक-झज्जर इलाके में सबसे ज्यादा सक्रिय है। पुलिस सूत्रों के अनुसार करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी के विवाद के चलते लॉरेंस ने जठेड़ी के जरिए इस घटना को अंजाम दिलाया है।

आत्महत्या केस में HC ने दिया था नफे सिंह को नोटिस
11 जनवरी 2023 को पूर्व मंत्री मांगेराम राठी के पुत्र जगदीश नंबरदार ने आत्महत्या कर ली थी। जिसके बाद पूर्व विधायक नफे सिंह राठी और उनके भांजे सोनू पर जगदीश नंबरदार को प्रताड़ित करने का आरोप लगा था। जगदीश नंबरदार की आत्महत्या के मामले में पिछले साल अगस्त में आरोपी नफे सिंह राठी को हाईकोर्ट ने नोटिस भेजा था।

इस मामले में मृतक जगदीश नंबरदार के भाई सतीश नंबरदार और पुत्र गौरव राठी ने नफे सिंह की जमानत रद्द करने की याचिका दायर की थी। 24 जनवरी 2023 को उक्त मामले में नफे सिंह की अग्रिम जमानत हुई थी। इसके बाद जगदीश नंबरदार के भाई सतीश नंबरदार ने नफे सिंह पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा था कि आरोपी उनके गवाहों को धमका रहे हैं।

Spread the love