Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

जींद में भैंस व्यापारी ने जहर निगलकर खुदकुशी की:मध्य प्रदेश के 10 व्यापारियों को दिलाई थी भैंसे, 1.49 करोड़ की पेमेंट नहीं की

हरियाणा के जींद में भैंस व्यापारी ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली। वह मध्यप्रदेश के भोपाल के व्यापारियों के भैंस खरीद के बदले 1.49 करोड़ न देने से आहत था। जिस वजह से सुरबरा गांव के फूल कुमार ने जिंदगी खत्म कर ली। पुलिस ने उसे आत्महत्या के लिए मजबूर करने के मामले में थाना उचाना में 10 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।
पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
उचाना थाना पुलिस को शिकायत देते हुए सुरबरा गांव के विकास ने बताया कि उसके पिता फुल कुमार भैंसों की खरीद-फरोख्त का काम करते हैं। कई साल पहले उसके पिता की दनौदा गांव के एक अन्य व्यापारी राजा सिंह के साथ मुलाकात हुई थी। राजा सिंह भी भैंसों का ही व्यापार करता था।
राजा और उसके बेटे मनोज, मध्य प्रदेश के भोपाल निवासी मुन्ना और उसके बेटे शकील ने उस से भैंसें खरीदी। शुरुआत में ये लोग उस से भैंस खरीद कर ले जाते थे और समय पर पेमेंट कर देते थे, इसलिए विश्वास में आकर उसने उधार पर भी कुछ भैंसें बिकवा दी।
इसके बाद मुन्ना ने उस से 68 लाख रुपये की भैंस खरीदी, यूनिस ने 22 लाख रुपए की, भोलू और पपौला ने 13 लाख रुपए की, पप्पू ने 11 लाख रुपए की, भोपाल के श्यामपुरा निवासी भोला ने सात लाख रुपये की, कासिम ने 9 लाख रुपये की, काला ने आठ लाख 70 हजार रुपए की भैंसें उसके पिता फुलकुमार के माध्यम से खरीदी और इनकी पेमेंट के लिए कुछ दिन का समय मांगा।
फुल कुमार ने सोचा कि कुछ दिन बाद पेमेंट आ जाएगी लेकिन काफी दिन बीत जाने के बाद भी पेमेंट नहीं आई तो फुल कुमार परेशान हो गया। जिन लोगों की फुल कुमार ने भैंस बिकवाई थी, वह लोग उस पर रुपए मांग कर दबाव बना रहे थे।
विकास ने बताया कि उसके पिता ने जमीन बेचकर जिनसे भैंस खरीदी थी, उनके रुपए तो दे दिए लेकिन पशु व्यापारियों ने उसके पिता को पेमेंट नहीं की। इससे आहत होकर उसने जहरीला पदार्थ निगल कर सुसाइड कर लिया। उचाना थाना पुलिस ने पशु व्यापारी मुन्ना, पप्पू, राजा, भोलू, मनोज, पपोला, यूनिस, काला डाक्टर, भोला व कासिम, संतोष के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज किया है।

 

Spread the love