Welcome to Barwala Block (Hisar)

बेटे की कस्सी से काटकर हत्या:शराब पीने के दौरान पिता से हुआ झगड़ा, सोते हुए वार किए, शव छोड़कर भागा

          

लेडी टीचर ने छात्रा की आंख फोड़ी:गुस्से में कॉपी मारी तो खून बहने लगा; आंख धुलवाकर घर भेजा, कराहते हुए आपबीती सुनाई

          

अग्रोहा मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टर धरने पर:प्रबंधन पर लगाए मनमानी वसूली के आरोप; खाने को लेकर भी उठाई आवाज

          

हिसार के खेतों से मिला 173 किलो गांजा:एक नशा तस्कर गिरफ्तार, ओडिशा से लाया गया; हांसी-नारनौंद में खपाया जाना था

          

सोना पहली बार ₹74 हजार के पार:चांदी ने ₹92,444 का ऑल टाइम हाई बनाया, एक ही दिन में 6 हजार रुपए बढ़ी कीमत

          

उपायुक्त ने स्कूलों और पुलिस स्टेशनों में स्टाफ की स्थिति देखी, एसडीएम को कमी पूरी कराने के निर्देश

  • बरवाला और उकलाना के सरकारी कार्यालयों और पुलिस स्टेशनों का किया औचक निरीक्षण

उपायुक्त उत्तम सिंह ने सोमवार को बरवाला के एसडीएम व तहसील कार्यालय और पुलिस स्टेशन बरवाला व उकलाना का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने स्टाफ की स्थिति की जानकारी ली व एसडीएम को स्टाफ की कमी को पूरा करवाने के लिए रिक्वायरमेंट भिजवाने के निर्देश दिए। उपायुक्त ने कर्मचारियों के मेडिकल, एलटीसी से संबंधित लंबित बिलों व ग्रीवेंसेज पोर्टल, सीएम विंडो और जनसंवाद से संबंधित लंबित फाइलों की दिशा में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

उन्होंने आरसी लाइसेंस, लर्निंग लाइसेंस, आरटीएस, सीसीटीवी कैमरे से संबंधित जानकारियां प्राप्त कीं। उपायुक्त ने लाइसेंस बनवाने के लिए आए अभ्यार्थी से मौके पर ही स्क्रीन टेस्ट करवा कर देखा। इसके अलावा उन्होंने शौचालायों की सफाई व्यवस्था व पीने के पानी की व्यवस्था हेतु अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश दिए। उपायुक्त ने एसडीएम से गांवों में नंबरदार व चौकीदार की स्थिति की विस्तृत जानकारी ली। उपायुक्त द्वारा बरवाला तथा उकलाना थाने का भी निरीक्षण किया गया।

उन्होंने एफआईआर फाइल व 1865 में लिखी उर्दू की एफआईआर, अमानतन असलाह, असलारूम, मालखाना रूम, रिकॉर्ड रूम का भी निरीक्षण किया। वहीं, उपायुक्त ने अंग्रेजों के जमाने की पुलिस स्टेशन में रखी बंदूक के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने एसएचओ से पूछा यह किसी पुलिस कर्मी को चलानी आती है तो जवाब ना में ही मिला।

उपायुक्त उत्तम सिंह ने बताया नशे की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन द्वारा अनेक टीमें गठित की गई हैं। नशा मुक्त भारत अभियान के तहत टीमों द्वारा कार्यक्रम आयोजित करके लोगों को नशे की रोकथाम व इसके दुष्प्रभाव बारे जागरूक किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त सूचना मिलते ही नशा बेचने व इसमें संलिप्त पाए जाने वाले व्यक्ति के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाती है। एसीयूटी अर्पित सांगल, एसडीएम विजया मलिक, तहसीलदार जितेंद्र कुमार, डीएसपी गौरव शर्मा, नायब तहसीलदार रविंद्र शर्मा, एसएचओ महेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे।

Spread the love